livedosti.com cam chat

महक की दुनिया

महक:हलो सर

सोनू: ह..हेलो …

महक: मेरा नाम महक है ….. मै XX साइंस की स्टूडेंट हु

महक के रूप का जादू अबतक सोनू पे हावी था

Xossip – पूरी रात बिस्तर में भाभी की चुदाई

उसकी नज़रे अब तक महक की मांसल…. चिकनी जांघो पर अटकी थी

महक मन ही मन मुस्कुराई …. उसने सोचा चलो पहली बिजली तो गिर ही गयी …

महक: सररर ….

सोनू जैसे नींद से जगा …….

सोनू: ह… हां …. आईये ना..

सोनू ने उसे अन्दर आने दिया

महक सोफे के पास खड़ी थी …. सोनू ने दरवाजा बंद किया और वो वापस मुडा ….

की .. महक ने उसपे दूसरी बिजली गिरा दी ….

उसने अनजान बनते हुए … अपने स्कर्ट के इलास्टिक को पकड़ कर घुमाया … जैसे वो स्कर्ट ठीक कर रही हो…

इस हरकत से उसका मिनी स्कर्ट हवा में लहराया ….इतना … की सोनू को उसकी सफेद पँटी में कैद उसकी फूली चूत का नजारा हो गया ….

जब महक को लगा की सोनू ये सब देख चूका है तो वो सोफे पर धम्म से बैठ गयी ….

जोर से बैठने के कारण … वो खुद सोफे के गद्दे पर उछली …. और सोनू को उसकी भरी भरी चिकनी जांघो का … और सफ़ेद पँटी का नजारा हो गया ….महक की चमकदार चिकनी चिकनी मांसल जांघो में सोनू खो गया …..

उसका लंड बेकाबू होने लगा ….

महक वहा बैठे बैठे अपने पैरो को हिला रही थी ….. कभी वो उन्हें फैला देती तो …. कभी एक दुसरे के साथ दबा देती …..

सोनू तो जैसे ट्रांस में चला गया था ……

उतने में महक अपने मोजो को ठीक करने के बहाने झुकी

उसके के ऐसे झुकने से उसके ढीले टॉप में से उसके उन्नत उरोजो … और उस गहरी खाई का एक भरपूर नजारा उसे मिला …..

आःह्ह्ह ….. उसकी मुह से एक हलकी सी आह निकली

वो महक के बदन के जादू में ऐसा फसा था … की वो जागते जागते सपना देखने लगा उसी आखों के सामने जैसे मूवी चलने लगी

उसने देखा ..

की वो लड़की उसे अपनी ओर खीच रही है ……

Xossip – पूरी रात बिस्तर में भाभी की चुदाई

अपने हाथो से उसका हाथ …. अपने स्कर्ट में ….. अपनी पँटी पर रख रही है

…..अआह्ह…..उफफ्फ्फ्फ़……

उसका लंड बेताब होकर उछलने लगा था

महक : सर…..

महक ने उसे आवाज लगायी

लेकिन उसकी तन्द्रा अब तक नहीं टूटी

महक ने उसे फिरसे आवाज लगायी ……

जबाब नदारद….

आखिर महक चल के उसके पास आयी …. और उसे कंधेसे पकड़कर हिलाया

महक: सर …..

सोनू हडबडा कर ….. प्रेजेंट में आया ….सोनू : हा…… हां… अरे तुम खडी क्यों हो …..बैठो ना …..
और सोनू भी कुर्सी पर बैठ गया ……

सोनू का दिमाग अब चलने लगा था …..

उसने सोचा …. आज तक मैंने यहाँ सिर्फ चुदाई ही की है ….. और फ़ोन जो भी कोई करता है ….. वो भी शायद यही चाहता है …….

उसने एक भरपूर नजर महक पे डाली ….. और सोचा ….. ये ….पहल करने से पहले आज ….. मै ही पहल करता हु ……..साला एक मस्त माल चुदाने को मिलेगा आज …..

उसने महक से बोला ……

सोनू:हा…. तो … महक …. बताओ …… कैसे चल रही है तुम्हारी पढाई

महक: वैसे तो ठीक ही चल रही है ….. पर वो बायो में ….. कुछ डिफिकल्टीस थी …

सोनू:तो मुझे बताओ ना ….. मै सब डिफिकल्टीस सॉल्व कर दूंगा

Xossip – पूरी रात बिस्तर में भाभी की चुदाई

महक ने अपनी नोटबुक से कुछ पढने का नाटक किया …

सोनू ने उसे पास बुलाया

सोनू: तुम इधर आ के बैठो ना …..

महक भी उठके उसके पास गयी

लेकिन वहा सिर्फ एक ही चेयर थी …. जिस पे सोनू बैठा था ….

महक: सर …. यहाँ तो एक ही चेयर है ……

सोनू ने मौके पे चौका लगाते हुए उसे पकड़कर अपनी जांघो पर बिठाया …..

सोनू: तो यही बैठ जाओ ना

महक ने शरमाने का नाटक किया ….. और निचे देखने लगी ….

महक के बदन की गर्मी…. उसके बदन से आती वो मदमस्त खुशबू, उसके बदन का वो नरम अहसास ….. सोनू को दीवाना बना रहा था

उसने महक की जांघो को सहलाना शुरू कर दिया ….

उसका हाथ महक की जांघो को सहलाते सहलाते …. उसकी चूत को छूने लगा …..

महक भी अब आहे भरने लगी थी ……..

दोनों चुपचाप मजा ले रहे थे …..

सोनू का लंड लोहे जैसा कठोर हो गया था …..

महक हो उसकी चुभन महसूस हो रही थी ……

उसने इस सिचुएशन में थोडा और मसाला डालने की सोची ….

उसने कसमसाते हुए कहा ……

महक : छोडिये ना … सर ……….

सोनू ठिठक गया ….. उसे लगा …… की उसने कोई जल्दबाजी तो नहीं की …

महकने उसके चहरे के भाव पढ़ लिए

महक : सर …. मुझे यहाँ ठीक से बैठते भी नहीं आ रहा ….. और

सोनू ने डरते डरते पूछा “ और क्या …”