livedosti.com cam chat

प्रेम मिलन

नमस्कार सभी कामरस छोडने को आतुर मित्रो, मैं अन्तर्वासना की कहानियाँ पढ़ना पसन्द करता हूँ। तो मेरा भी मन हुआ कि मैं अपनी ज़िन्दगी की एक घटना आप सबको बताऊँ। यह मेरी पहली कहनी है, आशा है कि आप लोगों को पसन्द आएगी। मैं हूँ 22 साल का 5’9” कद का एक दीवाना। रंग गेहुँआ है, दिखने में ठीक-ठाक हूँ। sexy kahaniya..

कोटा का रहने वाला हूँ। कहानी तब की है जब मैं कालेज में फ़स्ट ईयर में था, बी एस सी कर रहा था। तब मैं उन्नीस साल का था। मेरी क्लास में एक लडकी थी नाम था मेनिका (बदला हुआ) देखने में एकदम मस्त, हाय !

Antarvasna Sexy Kahaniya > मानसी की नर्म चूत

आज भी उसके बारे में सोचता हूँ तो आग लग जती है। गोरा रंग, 5’3” का कद, मासूम चहरा, कमर तक लम्बी चोटी, नई-नई जवानी थी सो शरीर छरहरा था पर अंगों पर उभार आ चुका था, सन्तरे के आकार के स्तन,खरबूजे जैसे दो माँसल नितम्ब, पतली और लम्बी-लम्बी उंगलियाँ।

जब वो जींस-टाप पहनकर सज-धज कर चलती थी तब उसकी चोटी उसके नितम्बों से टकराकर हिला करती थी, वो नज़ारा बेहाल कर देता था मुझे। उसका भोला-सा गोल चहरा, लाल-लाल होंठ, हाय, जी करता था अभी गोद में उठाकर चूम लूँ।

ना जाने कौन सा नशा किया था उसने जो उसकी बड़ी-बड़ी आँखें हमेशा चढ़ी-चढ़ी रहती थी। मैं उसे पसन्द करता था, दरअसल हर लड़का उस पर लाइन मारता था। कईयों ने उसे प्रोपोज़ भी किया था, पर उसने उसे साफ़ ना कर दी।

Antarvasna Sexy Kahaniya > आंटी की कसी चुत और मोटी गांड

मेरी कभी हिम्मत ना हुई, सोचा जब अच्छे खासों को ना कर चुकी है तो फिर मैं किस खेत की मूली हूँ। एक दिन क्लास चल रही थी, प्रोफ़ेसर पढ़ा रहे थे, मैंने देखा कि वो मुझे देख रही थी। मुझे अपनी तरफ़ देखता पाकर उसने अपनी नज़रें फेर ली।

थोड़ी देर बाद मैंने उसकी तरफ़ फिर देखा तो फिर वही सिलसिला हुआ, वो दिन कुछ उसी तरह निकल गया। उस रात मेरी नींद गायब थी, मैं उसी के बारे में सोच रहा था- क्या वो मुझे पसन्द करती है?

काश वो मेरी हो जाये! ऐसे ही ख्यालों में करवटें बदलते हुए ना जाने कब मैं सो गया। नज़रों के मिलने का सिलसिला चल पड़ा था, मेरी रातों की नींद और दिन का चैन गायब था। और शायद उसकी भी।

Antarvasna Sexy Kahaniya > देवर ने चोदा खेत में

हफ़्ता भर निकल गया था, आज मैंने बात को आगे बढ़ाने की ठान ली। कालेज खत्म होने के बाद जैसे ही मुझे वो अकेली दिखी, मैं उसके पीछे की तरफ़ से उसके पास गया और कहा- सुनो!

वो चौंककर पलटी और बोली- कऽऽऽऽ…क्या? ‘वो आज मैं अपना मोबाईल नहीं लाया और मुझे एक ज़रूरी फ़ोन करना है, तो क्या आप मुझे अपना फ़ोन यूज़ करने देंगी?’ ‘ठीक है।’ मैंने पूरी प्लानिंग पहले से की थी, अपने मोबाईल को साइलेंट मोड पर करके अपने बैग में रख लिया।

उसके फ़ोन से अपने फ़ोन पर काल किया, फ़िर काट दिया और उसको बोला- ‘वो फ़ोन उठा नहीं रहा। और फ़ोन उसे देते हुए कहा- बाई द वे, थैंक्स… मैं बाद में बात कर लूँगा। उसने मुझे कुछ शक भरी निगहों से देखा और बोली- ओके, बाय !

Antarvasna Sexy Kahaniya > हॉट लड़की ने घर बुला कर चुदवाया

मैं- बाय… वो चली गई मैं उसे पीछे से देखता रहा, थोड़ी दूर जाकर उसने मुझे एक बार मुझे मुड़कर देखा और चली गई। क्या बताऊँ कि मेरे लिये वो पल कितने रूहानी थे। वो दिन तो जैसे तैसे कटा, बस रात का इन्तज़ार था।

रात को लगभग 11 बजे मैंने उसे मेसेज किया- हाय! ‘कौन?’ ‘आज आपसे मिला था ना, आपका फ़ोन माँगा था।’ ‘ओह… तो आप हैं।’ ‘हाँ जी…’ ‘कहिये, क्या काम है?’ ‘जी, मुझे आप पसन्द हैं।’ ‘ओह, तो इसलिये फ़ोन माँगा था?’ ‘हाँ, और आपने समझकर भी अनजान बनते हुए दे दिया।’

‘हाँ, वो तो है।’ ‘अगर बुरा ना मानो तो एक बात कहूँ?’ ‘हाँ, कहो!’ ‘आप बहुत खूबसूरत हैं।’ ‘चल झूठा!’ ‘अरे, सच में…’ उस रात हम काफ़ी देर तक बातें करते रहे। मेरी खुशी मिली उत्तेजना हदें पार कर चुकी थी।

Antarvasna Sexy Kahaniya > मेरी गाण्ड और शीमेल का लण्ड

ना जाने मुझे क्या हुआ मैंने अपने सारे कपड़े उतार दिये और शीशे के सामने अपने आप को देखकर अपने लिंग को सहलाने लगा। मेरी साँसें तेज होने लगी, आँखे बन्द हो गई, लिंग पूरे तनाव में आ गया, हाथ बस लिंग को हिला रहे थे, सहला रहे थे, मन में बस उसका चेहरा, उसके हिलते हुए नितम्ब, उसके स्तन! big boobs

उत्तेजना के मारे लगता था कि कहीं लिंग का अगला भाग फट ना जाये। 4-5 मिनट बाद जोर से मेनिका चिल्लाते हुए मैंने पिचकारी छोड़ दी और बिस्तर पर गिर पड़ा। अब हम रोज़ फ़ोन पर देर रात तक बातें करने लगे।

कालेज में हमारे किस्से बनने लगे, क्यूंकि हम ज्यादातर एक साथ रहने लगे। मैं रोज़ उसके उसके बारे में सोच कर हस्थमैथुन करने लगा, बस उसे चूमने-भोगने के सपने देखने लगा। इन दिनों में हमने एक दूजे से प्यार का इज़हार भी कर दिया था।

Antarvasna Sexy Kahaniya > गीता भाभी ने चोदना सिखाया