livedosti.com

मौसी की लड़की को चोद डाला

हेलो दोस्तों मेरा नाम सनी है मेरी हाइट 5 फुट 11 इंच और तंदुरुस्त शरीर है अब मैं ज्यादा टाइम वेस्ट ना करके सीधा कहानी पर आता हूं यह बात तब की है जब मैं मेरी मौसी जी के घर गया हुआ था.. जवानी के मदमस्त चुदाई के लम्हो में मैंने mausi ki ladki ko choda uske ghar pe!

तो मेरी मौसी जी की लड़की का नाम वीना है.

उसकी उम्र उस वक्त 16 साल और वह 10th में पढ़ रही थी. उसका फिगर 30 28 30 था.

जब मैं मौसी जी के घर गया तो मैं उसका फिगर देखकर हैरान हो गया.

मुझे उसके फिगर में खासतौर पर इंटरेस्ट हुआ और मेरा लंड खड़ा होने लग गया..

मैंने उसे चैलेंज के रूप में सेट किया कि कैसे भी हो इसे पटाना है…

कुछ दिन उस पर गौर की तो एक दिन वह चुपके से किसी से फोन पर बात कर रही थी.. तो मैंने उसे पकड़ लिया तो वह डर गई…

जब मैंने उसे कहा कि मैं मौसा जी से कहूंगा, तो वह रोने लग गई और कहने लगी कि प्लीज आप किसी को कुछ मत कहना.. आप जो बोलोगे वह मैं करूंगी…

तो मैंने उसे कहा कि जिस से बात कर रही थी वह कौन ?

है तो वह बताने लगे कि यह उसका बॉयफ्रेंड है… विजय नाम है इसका..

तो मैंने उससे कहा कि सिर्फ बात ही करती है, या कुछ किया है भी या नहीं…

तो उसने कहा कि सिर्फ भैया ओन्ली फॉर किस ही की है इसके अलावा कुछ भी नहीं हुआ…

तो मैंने उसे कहा कि जो उसके साथ किया वह मेरे साथ भी कर ले…

तो वह मना करने लगी तो..

फिर मैंने उसे धमकाया तो वह डरने लग गई और वह किस करने के लिए तैयार हो गई..

जैसे ही मैंने उसके गुलाबी और मुलायम होठों को छुआ तो मेरे शरीर में सनसनाहट पैदा होने लग गई…

धीरे-धीरे मैं उसके 32 साइज के मुलायम गोल-गोल बूब्स को दबाने लगा तो वह मना करने लगे…

मैंने उसे जबरदस्ती उठा कर बेड पर डाल दिया और एक हाथ से दबाने लगा और किस करता रहा और दूसरा हाथ उसके सलवार के अंदर डाल दिया…

कुछ ही देर में वह भी सपोर्ट देने लग गई…

मैंने हंसते-हंसते उसके कपड़े उतार दिए ..

पूर्ण रूप से नागन मेरे सामने थी तो मैंने उसके शरीर के हर भाग को चूमना स्टार्ट कर दिया और अपने कपड़े उतारने स्टार्ट कर दिए..

मैं भी पूर्ण रूप से नंगा हो गया और मेरा लंड जिसका साइज 7 इंच है एकदम से तैयार था..

मैंने उसके पैर उठाए और जितना फैला सकता था उसने पैरों को फैलाया और लिंग को योनि से सट्टा दिया और उसके ऊपर मालिश करने लगा…

तो वीना बोलने लगी प्लीज भैया, अब देर मत करो डाल दो..

मैंने पूछा कि क्या डालू..

तो उसने कहा कि आपका लंड डाल दो..

मैंने एक जोर से झटका लगाया..

मेरा लिंग आधा उसकी चूत में प्रवेश कर गया था और उसके मुंह से एक हल्की सी चीख निकली…

तो मैंने उसके होठों को अपने होठों में काबू में कर लिया और एक और जबरदस्त झटका लगा दिया..

इसी के साथ ही मेरा लिंग के झिल्ली को पढ़ता हुआ पूरा रूप से अंदर घुस गया…

मैं कुछ देर तक उसके ऊपर लेट आ रहा..

फिर धीरे धीरे अंदर बहार करने लगा..  तो वह भी गरम हो गई…

ऐसे करते-करते आखिर इस गर्मी का अंत हुआ और मेरी गरम पिचकारी उसकी योनि के अंदर प्रवेश करके तो उसने मुझे अपनी बाहों में कस लिया..

तो मैंने पूछा कि वीनू कैसा लगा …

तो उसने जवाब दिया कि भैया आप तो पूरे वह हो और हंस के मेरे सीने से लिपट गए…

उसके बाद हमने बहुत बार एक दूसरे से संबंध बनाए जब तक उसकी शादी नहीं होगी…

मेरी यह पहली स्टोरी है – Mausi ki ladki ko choda …