livedosti.com

विज्ञान से चूत चुदाई ज्ञान

सभी कामुक कहानियोँ के शोरताओँ की कड़क लंड का सलूट! सभी के जीवन में सेक्स और चुदाई का एक अलग ही टाइम होता है.. जिसको कुछ पता नहीं वो महाचोदु बन जाता है चुत में लंड डालते ही, और लड़कियां भी चुदवा कर अपनी चुत की खुजली कैसे मिटाते है जान जाती है.. ऐसे ही कुछ सेक्स के विज्ञान (chodan) की ये कहानी है..

आशा है आपको पसंद आएगी…

antarvasnasexstories.org par chodan ka vigyan jaisi mast antarvasna sex kahaniप्रिया- हाँ भाई.. दिख रहा है मगर मुझे थोड़ा डर लग रहा है.. आपका इतना लंबा लौड़ा मेरी छोटी सी गाण्ड में कैसे जाएगा।

Chodan Antarvasna > तीन भाभीयों की एक साथ चुदाई

दीपक- अरे पगली.. जब चूत में चला गया.. तो गाण्ड में भी चला जाएगा.. तू डर मत.. पहली बार में थोड़ा दर्द होगा.. उसके बाद सब ठीक हो जाएगा।

प्रिया- नहीं भाई पहली बार जब चूत में गया था.. मेरी जान निकलते-निकलते बची थी।

दीपक- अरे वो तो मैं गुस्से में तुझे चोद रहा था.. अब तो बड़े प्यार से तेल लगा कर तेरी गाण्ड में लौड़ा डालूँगा.. तू डर मत मेरी प्यारी बहना..।

प्रिया- ठीक है भाई.. जैसी आपकी मर्ज़ी.. आ जाओ अब आप ही मुझे नंगी कर दो।

दीपक उसके करीब गया और उसके कपड़े निकाल दिए.. और खुद भी नंगा हो गया.. उसका लौड़ा झटके खा रहा था।

प्रिया- भाई देखो कैसे ये झटके खा रहा है.. बड़ा हरामी है.. इसको पता लग गया कि आज ये मेरी कसी हुई गाण्ड में जाएगा।

Chodan Antarvasna > रिसेप्शन वाली आंटी को चोदा

दीपक- हाँ मेरी जान ये सब महसूस करता है पहले तुझे अच्छे से चूमूँगा.. चाटूँगा.. उसके बाद ही तेरी गाण्ड मारूँगा।

दीपक और प्रिया अब एक-दूसरे के होंठों का रस पीने लगे थे।

इसी दौरान दीपक का हाथ प्रिया की गाण्ड को दबा रहा था.. प्रिया को बड़ा मज़ा आ रहा था।

दोनों बिस्तर पर लेट गए और चूसने का प्रोग्राम चालू रहा..

दीपक अब प्रिया के निप्पल को चूसने लगा।

प्रिया- आ आह्ह.. भाई मज़ा आ रहा है.. उह.. ये निप्पल का कनेक्शन आह्ह.. चूत से है क्या.. आह्ह.. आप चूस रहे हो और अह.. चूत में मीठी खुजली शुरू हो गई आह्ह.

दीपक- हाँ मेरी बहना निप्पल और चूत की तारें आपस में जुड़ी हुई हैं अब तू मज़ा ले.. मुझे भी तेरे आमों का रस पीने दे.. उफ़ बड़े रसीले हैं तेरे आम..

दीपक काफ़ी देर तक प्रिया के मम्मों को चूसता रहा..

Chodan Antarvasna > रुकसाना हिजड़ा का गधे जैसा लंड

अब वो नीचे आकर चूत को चाटने लगा था।

प्रिया तो बस आनन्द के मारे सिसकियां ले रही थी।

दीपक का लौड़ा लोहे जैसा सख़्त हो गया था।

दीपक- साला ये लंड भी ना.. परेशान कर रहा है.. ठीक से चूत चाटने भी नहीं दे रहा.. प्रिया घूम जा तू.. लौड़े को चूस.. मैं तेरी चूत को ठंडा करता हूँ.. उसके बाद तेरी गाण्ड का मज़ा लूँगा..

प्रिया घूम गई अब दोनों 69 की अवस्था में आ गए थे..

दीपक बड़े सेक्सी अंदाज में चूत को चाटने लगा।

प्रिया भी तने हुए लौड़े को ‘घपाघप’ मुँह में चूसे जा रही थी।

उसकी उत्तेजना बढ़ने लगी थी..

Chodan Antarvasna > महक की दुनिया

क्योंकि दीपक चूत चाटने के साथ-साथ अपनी ऊँगली पर थूक लगा कर उसकी गाण्ड में घुसने की कोशिश कर रहा था।

प्रिया को बहुत मज़ा आ रहा था..

उसे गाण्ड में ऊँगली करने से गुदगुदी हो रही थी और चूत पर जीभ का असर उसे पागल बना रहा था।

करीब 10 मिनट बाद उसकी चूत ने उसका साथ छोड़ दिया और वो झड़ने लगी।

दीपक ने सारा चूतरस पी लिया।

दीपक- आह्ह.. मज़ा आ गया मेरी रानी.. चल अब तैयार हो जा गाण्ड मरवाने के लिए मेरा लौड़ा भी कब से तड़फ रहा है।

प्रिया- भाई आपका लौड़ा बहुत गर्म हो गया है.. चुसाई से जल्दी ही झड़ जाएगा.. मैं मुँह से ही चूस कर पानी निकाल देती हूँ दूसरी बार कड़क हो जाए तब आप गाण्ड मार लेना।

दीपक- नहीं मेरी जान.. लौड़े को इतना क्यों चुसवाया.. पता है.. ताकि ये तेरी गाण्ड में जाने के लिए तड़पे.. तब तेरी गाण्ड मारने का मज़ा दुगुना हो जाएगा..

Chodan Antarvasna > इंटरनेट वाली भाभी

प्रिया- ठीक है मेरे गान्डू भाई.. आप नहीं मानोगे.. लो मार लो कौन सी अवस्था पसन्द करोगे।

दीपक- आज गधी बन जा.. तुझे गधी बना कर मैं तेरी सवारी करूँगा..

प्रिया- क्या भाई.. कभी कुतिया.. कभी गधी.. आप घोड़ी भी तो बोल सकते हो।

दीपक- देख अब तू चाहे कुछ भी बन.. लौड़ा तो तेरी गाण्ड में ही जाना है। क्या फ़र्क पड़ता है कि तू क्या बनी है।

प्रिया- अच्छा भाई.. लो आपके लौड़े के लिए तो गधी भी बन जाती हूँ लो अपनी गधी की गाण्ड में लौड़ा डाल दो।

प्रिया घुटनों के बल हो गई।

कमर को सीधा कर लिया पैर फैला लिए.. ताकि गाण्ड का छेद थोड़ा खुल जाए.. मगर कुँवारी गाण्ड थी तो कहाँ छेद खुलने वाला था।

दीपक ने लौड़े पर अच्छे से थूक लगाया और प्रिया की गाण्ड में भी ढेर सारा थूक लगा कर ऊँगली से अन्दर तक करने लगा।

Chodan Antarvasna > ड्रंक आंटी की चुदाई