livedosti.com

गाण्डू लौण्डे की बीवी चालू

कुछ दिन हुए मैं अपने दोस्तों के साथ बैठा एक होटल में पेग शेग का मज़ा ले रहा था कि मुझे मेरे पीछे के टेबल पर बैठे लोगों की कुछ बातचीत सुनी, जिसने मेरे खुराफाती मन में एक कहानी का आईडिया पैदा किया। gandu

बात यह सुनी कि उन लोगों का एक दोस्त था मोहित जिसकी अभी अभी 3 महीने पहले शादी हुई थी, मोहित गे (गाण्डू) था मतलब वो लड़की को चोदने में नहीं बल्कि खुद अपनी गाण्ड मरवाने के शौक़ीन था और जिस लड़की किरण से उसकी शादी हुई, उसको भी वो लड़के जानते थे और कह रहे थे कि किरण शादी से पहले भी कई बार उन्हीं के किसी दोस्त से चुदी हुई थी।

antarvasnasexstories.org par gandu sex stories jaise mast antarvasna free sex kahaniGandu Sex Kahani > पड़ोस वाली सोनी कुड़ी

तो मैंने सोचा कि अगर एक गाण्डू लौण्डे की शादी एक शानदार जिस्म की मल्लिका और बहुत खूबसूरत और चुदासी लड़की से हो जाये, तो सुहागरात पर दोनों के मन में क्या क्या हलचल हुई होगी, किसने किस को चोदा होगा, चोदा भी होगा या नहीं, इन सब सवालों को एक कहानी के रूप में आपके सामने पेश कर रहा हूँ, उम्मीद है आपको पसंद आयेगी।

लड़के की सोच:

मेरा नाम मोहित है, मैं दिल्ली में रहता हूँ, घर परिवार काफी समृद्ध है, पैसे की कोई कमी नहीं…

मेरी शक्लो-सूरत और सेहत बहुत बढ़िया है मगर एक बात है, वो यह कि स्कूल टाइम में मुझे दोस्तों के साथ गलत आदतों का शौक पड़ गया, पहले तो मुठ्बाज़ी और बाद में बढ़ते बढ़ते लौण्डे बाज़ी।

अब हम तीन दोस्त थे, पहले पहले तो हम तीनों गाण्डू दोस्त आपस में एक दूसरे की गाण्ड मारते थे, फिर बाद में और दोस्त बनते चले गए, और कॉलेज तक आते आते तो मेरे बहुत से यार बन गए। और गाण्ड मरवाने की ऐसी आदत बनी कि बस फिर तो ये हालत हो गए कि जब तक गाण्ड में कुछ न घुसे तब तक लण्ड का तो खड़े हो का सवाल ही नहीं पैदा होता था।

Gandu Sex Kahani > तलाकशुदा की चूत की प्यास

कॉलेज छोड़ने के बाद भी मेरा अपने यारों के साथ यही खेल चलता रहा।

कॉलेज ख़त्म हो गया तो मेरी शादी की बात चलने लगी, मैंने काफी विरोध किया मगर मेरी एक न चली, मेरी शादी पक्की हो गई और तय दिन शादी भी हो गई।

शादी के एक दिन बाद सुहागरात थी, मैं सोच रहा था कि सुहागरात पे बीवी के साथ क्या करूंगा और अगर उस रात लण्ड ही न खड़ा हुआ तो क्या होगा?

मुझ गाण्डू को तो पीछे से लेने की आदत है, क्या बीवी से कहूं कि तुम मेरे पीछे से कुछ अन्दर डालो?

नहीं नहीं… यह तो साली बेईज्ज़ती वाली बात है और साथ ही उसे भी पता चल जायेगा कि मैं लौंडा हूँ।

फिर मैंने सोचा कि चलो जो होगा देखा जायेगा।

लड़की की सोच:

Gandu Sex Kahani > टूर पे अम्मी की चुदाई

दोस्तो, मेरा नाम किरण है, मैं 24 साल की हूँ, मैं बहुत ही बिंदास किस्म की लड़की हूँ, स्कूल में भी ब्यूटी क्वीन थी, कॉलेज में भी… इसी बात ने मेरे अन्दर घमण्ड भर दिया, जिसका फायदा मेरी ही क्लास के एक लड़के ने उठाया और मेरे हुस्न की तारीफें कर कर के मुझे अपने जाल में फंसा लिया, मैं दसवीं क्लास में थी जब मैंने पहली बार सेक्स किया था, उसके बाद तो मैं कभी बॉय फ्रेंड के बिना रह ही नहीं सकी।

लण्ड चूसना मुझे बहुत पसंद है और चूत चटवाना तो मेरी जान निकाल देता है।

खैर जब कॉलेज खत्म किया, कॉलेज के बाद शादी तय हो गई और मैं एक दिन शादी करके ससुराल भी पहुँच गई।

सुहागरात को क्या होना है, मुझे सब पता था, मगर मैं चाहती थी कि शुरुआत मेरे पति करें, बाकी तो मैं संभाल लूंगी।

सुहागरात को मेरी ननदों ने मुझे कमरे में लेजा कर बैठा दिया, मैं बेड पर बैठ कर इनका इंतज़ार करने लगी।

Gandu Sex Kahani > रुकसाना हिजड़ा का गधे जैसा लंड

थोड़ी देर बाद ये आये, इनके साथ इनके 3-4 दोस्त भी थे जो इनको कमरे में धकेल कर चले गए।

किरण मन में- हाय… ये तो आ गए!

मोहित मन में- हे भगवान्, कमरे में तो आ गया, अब क्या करूँ, बात कैसे शुरू करूँ?

‘हेल्लो किरण, कैसी हो?’

किरण- हेलो, मैं ठीक हूँ, आइये बैठिये!

मोहित किरण के पास बैठ जाता है, मन में सोचता है ‘वाओ, बड़ी सेक्सी है यार, गोरा गदराया बदन, बूब्स भी सॉलिड हैं।

‘मैं आपके लिए कुछ लाया हूँ !’

वो किरण को चॉकलेट का डिब्बा और गुलाब का फूल देता है।

Gandu Sex Kahani > मस्त रंडी की चुत चुदाई